Connect with us

राजनीति

तनाव बना: राहुल के बस से उतरते ही भाजपा का झंडा लिए कार्यकर्ताओं ने लगाई मोदी मोदी के नारे, तैश में राहुल तो सुरक्षा कर्मियों ने तुरंत बस में चढ़ाया

खबर शेयर करें -

असम में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान आज उसे समय अपरा तफरी का माहौल पैदा हो गया जब राहुल के बस से उतरते ही सामने भाजपा के झंडे लिए तमाम कार्यकर्ता मोदी मोदी के नारे लगाने लगे। मामले की संवेदनशीलता को देखकर सुरक्षा कर्मियों ने राहुल गांधी को तुरंत ही बस के अंदर भेज दिया मगर मोदी मोदी के नारे सुनने के बाद राहुल गांधी काफी तैश में आ गए।

राहुल गांधी मणिपुर से मुंबई तक भारत जोड़ो न्याय यात्रा का आयोजन कर रहे हैं। यात्रा के आठवें दिन राहुल असम के सोनितपुर इलाके में पहुंचे। एक स्थान पर लोगों से मिलने बस से नीचे उतरे राहुल गांधी को अफरा-तफरी जैसे माहौल में कुछ सेकेंड के भीतर वापस बस में चढ़ाया गया। दरअसल, राहुल जिस बस से सफर कर रहे हैं उसके आस-पास भाजपा का झंडा लेकर पहुंचे कुछ लोगों को देखकर अफरा-तफरी का माहौल देखा गया। इससे पहले पार्टी महासचिव जयराम रमेश की कार को निशाना बनाने की खबर भी सामने आई।

हथियारबंद सुरक्षाकर्मी भी थे, कुछ ही सेकेंड में बस में वापस भेजे गए राहुलमाहौल की संवेदनशीलता को देखते हुए मौके पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों और कांग्रेस नेताओं ने राहुल गांधी को तत्काल बस के अंदर जाने को कहा। समाचार एजेंसी- एएनआई की वीडियो रिपोर्ट में देखा जा सकता है कि राहुल बस से नीचे उतरते हैं। आस-पास दर्जनों लोग मौजूद हैं। हथियारबंद सुरक्षाकर्मी भी राहुल के पास ही दिखे। इसी बीच चंद सेकेंड के भीतर राहुल को वापस बस में भेजा गया। राहुल के आसपास पहुंचे लोगों के मामले को सुरक्षा में चूक की तरह भी देखा जा रहा है।

पार्टी सुप्रीमो खरगे की दो टूक- कांग्रेस डरने वाली नहीं

असम के नौगांव में भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान कांग्रेस प्रमुख मल्लिकार्जुन खरगे ने भी बयान दिया। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की यात्रा बहुत अच्छी चल रही है। ये देखकर बीजेपी के लोग घबरा गए हैं। उन्होंने हमारे पीसीसी अध्यक्ष पर हमला किया, लेकिन वो डरने वाले नहीं हैं। वो कांग्रेस के एक सिपाही हैं। कांग्रेस किसी से डरने वाली नहीं है। बकौल खरगे ‘यह मेरी बिल्ली मुझसे ही म्याऊं’ जैसा है। जो बिल्ली कभी हमारे पास हुआ करती थी वह अब हम पर म्याऊं-म्याऊं कर रही है। हमने पहले भी ऐसे कई लोगों को देखा है। हम कभी नहीं डरेंगे, ये कांग्रेस का वादा है। बता दें कि हिमंत बिस्वा सरमा कभी कांग्रेस के बड़े नेता रहे थे। अब भाजपा नेता और प्रदेश के मुखिया के रूप में उन्होंने कांग्रेस को आड़े हाथों लिया है।

कांग्रेस चीफ भूपेन बोरा पर हमला, नाक पर आई चोट

इससे पहले असम की कांग्रेस इकाई ने दावा किया कि असम कांग्रेस के अध्यक्ष भूपेन बोरा पर भाजपा समर्थकों के एक समूह ने कथित तौर पर हमला किया। घटना रविवार को असम के सोनितपुर जिले के जमुगुरीहाट इलाके की बताई गई। हमले में कथित तौर पर भूपेन बोरा की नाक पर चोट आई है। उनको इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है। उल्लेखनीय है कि असम के सोनितपुर जिले के एसपी सुशांत बिस्वा सरमा हैं। एसपी सुशांत असम के सीएम हिमंत बिस्वा सरमा के भाई हैं। ऐसे में कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर कथित हमले का मामला राजनीतिक रूप से बेहद संवेदनशील और बड़ा बनने की आशंका है।विज्ञापनकांग्रेस को नाकाम बताते हुए भाजपा का पलटवारअसम विधानसभा के उपाध्यक्ष और बीजेपी विधायक डॉ नुमल मोमिन ने कहा, मल्लिकार्जुन खरगे बीजेपी और असम के सीएम पर बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं। मुझे लगता है कि कांग्रेस घबरा गई है। लोगों ने भारत जोड़ो न्याय यात्रा को खारिज कर दिया है। नाकामी से घबराई कांग्रेस, बीजेपी और सीएम को बदनाम करने के लिए नापाक साजिश रच रही है। डॉ नुमल ने कहा, ‘मैं मल्लिकार्जुन खरगे और राहुल गांधी के बयानों की निंदा करता हूं। उन्हें पता लगाना चाहिए कि हमले किसने किए। असम पुलिस और प्रशासन बहुत सक्रिय हैं। हमारे सीएम बहुत मजबूत हैं दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।’

आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय का दावा- राहुल गांधी ने आपा खोया

राहुल गांधी के प्रकरण में भाजपा के आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने दावा किया है कि भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान सोनितपुर से गुजर रहे राहुल गांधी, ‘जय श्री राम’ और ‘मोदी-मोदी’ के नारे सुनकर आपा खो बैठे। मालवीय और भाजपा का दावा है कि नारेबाजी सुनकर भड़के राहुल बस से उतर गए और भीड़ में घुसने लगे।जनता कांग्रेस को खारिज कर देगी

मालवीय ने चुटकी लेते हुए पूछा, अगर राहुल भाजपा समर्थकों की छोटी संख्या और नारे सुनकर अभी ही इतने ही परेशान हो रहे हैं, तो वे आने वाले दिनों में इस देश के लोगों का सामना कैसे करेंगे? उन्होंने कांग्रेस को ‘हिंदू विरोधी’ बताते हुए अयोध्या के राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह का हिस्सा बनने से इनकार करने के फैसले का भी जिक्र किया। मालवीय के मुताबिक निमंत्रण को अस्वीकार करने के बाद जनता पूरे देश में कांग्रेस को खारिज कर देगी।

Continue Reading

संपादक - कस्तूरी न्यूज़

More in राजनीति

Recent Posts

Facebook

Advertisement

Trending Posts

You cannot copy content of this page