Connect with us
वन्यजीव संघर्ष के दौरान आमतौर पर गुलदार का पलड़ा भारी रहता है, लेकिन जंगली सूअर ने भी हार नहीं मानी ओर अंत तक लड़ता रहा।

अल्मोड़ा

उत्तराखंड: जंगल में वर्चस्व की जंग, जंगली सूअर ने गुलदार का पेट फाड़ दिया

खबर शेयर करें -

अल्मोड़ा: उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों में इंसानों और गुलदारों के बीच संघर्ष की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। इस संघर्ष में कई बार इंसानों की जान भी चली जाती है, लेकिन अल्मोड़ा में एक अलग ही घटना देखने को मिली है। यहां एक गुलदार और जंगली सूअर के बीच खूनी संघर्ष हुआ।

आमतौर पर संघर्ष के दौरान गुलदार का पलड़ा भारी रहता है, लेकिन जंगली सूअर ने भी हार नहीं मानी ओर अंत तक लड़ता रहा। खूनी संघर्ष में गुलदार को अपनी जान गंवानी पड़ी। बीते दिन गुलदार का शव क्षत-विक्षत हालत में बरामद किया गया। नर गुलदार की उम्र करीब 2 साल है। घटना द्वाराहाट विकासखंड की है।

यहां असगोली गांव में एक गुलदार का शव पड़ा मिला। देखते ही देखते मौके पर लोगों की भीड़ जुड़ गई। बाद में वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। माना जा रहा है कि गुलदार की मौत सूअर के हमले में हुई है।

सूअर ने गुलदार का पेट फाड़ दिया था। गुलदार का शव सड़क से मात्र 10 मीटर की दूरी पर एक पगडंडी पर पड़ा हुआ था। वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि दो डॉक्टरों की टीम गुलदार के शव का पोस्टमार्टम करेगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही गुलदार की मौत की असली वजह का पता चल सकेगा। घटना की जांच की जा रही है।

Continue Reading

संपादक - कस्तूरी न्यूज़

More in अल्मोड़ा

Recent Posts

Facebook

Advertisement

Trending Posts

You cannot copy content of this page