Connect with us
छत्तीसगढ़ में सत्ता परिवर्तन के बाद नक्सलियों ने अपने नापाक इरादों को अंजाम देना शुरू कर दिया है। जानकारों के अनुसार, राज्य में शांतिपूर्वक तरीके से चुनावी प्रक्रिया सम्पन्न होने से बौखलाए हुए हैं। यह हमले इसी बौखलाहट के परिणाम हैं।

राष्ट्रीय

छत्तीसगढ़ में अचानक से बढीं नक्सली घटनाएं, मुठभेड़ में CRPF के सब-इंस्पेक्टर शहीद, पिछले चार दिन में तीसरी घटना

खबर शेयर करें -

 नक्सल प्रभावित राज्य छत्तीसगढ़ में अचानक से नक्सली फिर से एक्टिव हो गए हैं। सुरक्षाबलों पर नक्सलियों ने हमले करना तेज कर दिए हैं। पिछले चार दिनों में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच तीन बार मुठभेड़ हो चुकी है। इसमें दो जवान शहीद हो चुके हैं और कई जवान घायल भी हुए हैं। इसी क्रम में रविवार 17 दिसंबर को भी घाट लगाए बैठे नक्सलियों ने गस्त करने निकली CRPF की एक टुकड़ी पर हमला कर दिया।

सर्च ऑपरेशन के लिए थी बटालियन 

जानकारी के अनुसार, रविवार की सुबह सात बजे जगरगुंडा थाना अंतर्गत बेदरे कैंप से सीआरपीएफ 165वी बटालियन की कंपनी उर्सांगल की तरफ ऑपरेशन पर निकली थी। ऑपरेशन के दौरान नक्सलियों से मुठभेड़ हुई। घटना में 165वी बटालियन के सब इंस्पेक्टर सुधाकर रेड्डी शहीद हो गए एवं कांस्टेबल रामू गोली लगने से घायल हो गए। 

मुठभेड़ स्थल पर चल रहा सर्चिंग अभियान 

घायल जवान को प्राथमिक उपचार कर उचित उपचार हेतु हेलीकॉप्टर के माध्यम से एयरलिफ्ट किया जा रहा है। मुठभेड़ के बाद सुरक्षा बलों ने आस पास के इलाके की सघन तलाशी की, जिस पर चार संदिग्धों को पुलिस ने दबोच लिया है तथा सीआरपीएफ, कोबरा एवं जिला बल के द्वारा आस पास के इलाके की सघन सर्चिंग की जा रही है। संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है। 

चार दिनों में तीसरी घटना 

वहीं इससे पहले 14 दिसंबर को कांकेर में 14 दिसंबर को नक्सलियों के किए IED ब्लास्ट में BSF का एक जवान शहीद हो गया। इससे पहले 12 दिसंबर कसे छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में IED ब्लास्ट की चपेट में DRG का एक जवान आ गया है। इसमें जवान मामूली रूप से घायल हुआ है। प्राथमिक इलाज के बाद उसे जिला अस्पताल रेफर किया गया था।

Continue Reading

संपादक - कस्तूरी न्यूज़

More in राष्ट्रीय

Recent Posts

Facebook

Advertisement

Trending Posts

You cannot copy content of this page