Connect with us

others

दुःखद: सौतेली मां ने बर्बरतापूर्वक आठ साल की बेटी की हत्या कर शव मकान में गड्ढा खोद दबाया

खबर शेयर करें -

काशीपुर में सौतेली मां ने आठ वर्षीय बच्ची की बर्बरतापूर्वक हत्या कर उसका शव घर के सामने एक खाली मकान में गड्ढा खोदकर दबा दिया। वह नवमी के दिन से लापता थी। उसके पिता ने आईटीआई थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी जिसे हत्या की धाराओं में तरमीम कर दिया गया है। आरोपी महिला को हिरासत में ले लिया है। डॉक्टरों के पैनल ने शव का पोस्टमार्टम किया।

खड़कपुर देवीपुरा निवासी मोनू कुमार ने पुलिस को बताया कि उसकी पहली पत्नी रीना की 5-6 साल पहले बीमारी से मौत हो गई थी। उससे उसकी दो बेटियां सोनी (8) और तनु (6) थीं। दोनों की परवरिश के लिए परिजनों ने चार साल पहले उसकी दूसरी शादी ग्राम फजलपुर थाना डिलारी जिला मुरादाबाद (यूपी) निवासी लक्ष्मी से करा दी थी। उससे उसका बेटा देव (2) और बेटी देविका (3) है। सोनी कक्षा चार में पढ़ती थी। माेनू ने बताया कि 15 अप्रैल को उसकी मां संतोष देवी रिश्तेदार की गमी में गई थीं, जबकि वह अपने मामा के घर लगन में शामिल होने 16 अप्रैल को गल्लाखेड़ा ताजपुर जिला बिजनौर (यूपी) गया था। इसके बाद उसकी मां संतोष देवी 17 अप्रैल को रिश्तेदार के घर से बिजनौर पहुंच गई थीं जबकि घर में पत्नी लक्ष्मी और चारों बच्चे थे।

मोनू कुमार ने बताया कि 17 अप्रैल की शाम 6:30 बजे लक्ष्मी का फोन आया कि सोनी नवमी पूजन के लिए सहेलियों के साथ गई थी जो घर नहीं लौटी। इस पर वह घर आया और खोजबीन की, लेकिन सोनी नहीं मिली। तब उसने आईटीआई थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। पुलिस ने बीते बृहस्पतिवार को दोपहर में सीसीटीवी फुटेज खंगाले जिसमें उसकी पत्नी लक्ष्मी दोपहर करीब ढाई बजे बेटी सोनी को सामने वाले घर में ले जाती नजर आई। तब पुलिस ने सामने खाली मकान में खोजबीन की, जहां एक जगह गड्ढे में ताजी मिट्टी पड़ी थी। पुलिस ने जब गड्ढे की मिट्टी निकाली तो उसमें एक बोरे में सोनी का शव रस्सी से बंधा हुआ था। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा और लक्ष्मी को पकड़ लिया। पुलिस ने हत्या के कारणों को जानने के लिए डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम कराया।

कोतवाली प्रभारी प्रवीण सिंह कोश्यारी ने बताया कि लक्ष्मी सौतेली बेटी सोनी से द्वेष भावना रखती थी। उसने बताया कि सोनी उसके बच्चों का हिस्सा मार लेती इसलिए उसने उसकी हत्या कर दी।

सोनी के शव का डॉक्टरोंं के पैनल से पोस्टमार्टम कराया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। आरोपी सौतेली मां को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। -अनुषा बडोला, सीओ, काशीपुर।

पहले पीटा, फिर गला घोंटकर कर दी हत्या

शुक्रवार को दोपहर बाद डॉक्टरों के पैनल ने पोस्टमार्टम कर बताया कि मासूम सोनी के शरीर पर चोट और गले पर रस्सी के निशान हैं। ऐसा प्रतीत हो रहा है कि पहले उसे बेरहमी से पीटा और फिर गला घोटा होगा। वहीं मासूम के नाजुक अंग की स्लाइड भी जांच के लिए भेजी जा रही है। डॉक्टरों का कहना है कि कहीं उसके साथ कोई अनुचित व्यवहार न हुआ हो।

अपनी सगी बच्ची को भी पीटती थी आरोपी

लक्ष्मी की तीन वर्षीय बेटी देविका से जब समाजसेवी सरोज ठाकुर ने पूछा कि सोनी को कैसे मारा, तब देविका ने सहमी आवाज में बताया कि उसकी बहन सोनी चिल्ला रही थी। मम्मी और दो लोग मार रहे थे। मेरी मम्मी ने उसे मार दिया। देविका ने वह कमरा भी दिखाया जिसमें पहले सोनी को मारा-पीटा गया था। मासूम ने बताया कि मम्मी उसे भी खूब मारती हैं। वहीं इस हादसे से घर के बच्चों के साथ जो बच्चियां कन्या पूजन में सोनी के साथ थीं वह भी डरी-सहमी हैं। वहीं सोनी की सगी छोटी बहन तनु अपनी बुआ के पास रहती है।

Continue Reading

संपादक - कस्तूरी न्यूज़

More in others

Recent Posts

Facebook

Advertisement

Trending Posts

You cannot copy content of this page