Connect with us
आईपीएस अधिकारी एसएसपी पौड़ी श्वेता चौबे

others

एसएसपी श्वेता चौबे समेत इन अफसरों को मिलेगा राष्ट्रपति पुलिस पदक, एक हेड कांस्टेबल भी सम्मान में शामिल

खबर शेयर करें -

गणतंत्र दिवस के अवसर पर 26 जनवरी को राष्ट्रपति पदक देश भर के तमाम पुलिस कर्मियों और अधिकारियों को दिया जाता है। पुलिस फल में विशेष कार्य और बहादुर के लिए यह सम्मान दिया जाता है और इसमें देश भर से पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों का चयन होता है। इसी क्रम में उत्तराखंड से भी इस बार पांच पुलिस अफसर और एक हेड कांस्टेबल का चयन राष्ट्रपति पुलिस पदक के लिए किया गया है।

उत्तराखंड के लिए यह गौरव की बात है कि यहां से 6 पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों को इस सम्मान के लिए नवाजा गया है। पुलिस सेवा में नुकरानी की सेवा को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने अपने यहां से राष्ट्रपति पदक के लिए नाम नामित करती हैं। इसके बाद केंद्र सरकार तय करती है कि किसी पुलिस पदक से नवाजा जाएगा। राष्ट्रपति पुलिस पदक अपने आप में पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए एक बेहद सम्मान का विषय होता है। तो लिए आपको बताते हैं किन अधिकारियों और हेड कांस्टेबल का चयन इस बार राष्ट्रपति पुलिस पदक के लिए किया गया है.

गणतंत्र दिवस पर उत्तराखंड के छह पुलिस अफसरों को राष्ट्रपति पुलिस पदक से सम्मानित किया जाएगा। एडीजी कानून व्यवस्था एपी अंशुमान, आईजी रिद्धिम अग्रवाल, देहरादून पुलिस कप्तान अजय सिंह, पौड़ी एसएसपी श्वेता चौबे, इंस्पेक्टर सुरजीत सिंह और हेड कनस्टेब लक्ष्मण सिंह का नाम इसमें शामिल है। इन सभी को अपने उल्लेखनीय कार्यों के लिए इस बार गणतंत्र दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति पुलिस पदक से नवाजा जाएगा जिसे की उत्तराखंड के लिए गौरव का विषय बताया जा रहा है।

  • 35 सरपंच भी बनेंगे गणतंत्र दिवस समारोह का अहम हिस्सा

उत्तराखंड के सीमांत जिले चमोली, उत्तरकाशी और पिथौरागढ़ के 35 सरपंच अपने पति व पत्नी के साथ 26 जनवरी को देश के 75वें गणतंत्र दिवस परेड के साक्षी बनेंगे। इस खास मौके पर केंद्र सरकार ने सीमांत क्षेत्रों के सर्वांगीण विकास के लिए चलाई जा रही वाइब्रेंट विलेज योजना के तहत आने वाले गांवों के सरपंचों को कर्तव्य पथ पर आयोजित होने वाली परेड पर विशेष तौर पर आमंत्रित किया है।

उत्तराखंड के सीमांत जिलों के 23 उप सरपंचों को भी कर्तव्य पथ पर आमंत्रित किया है। इसके अलावा प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, महिला स्वयं सहायता समूह, किसान उत्पादन संगठन आदि योजनाओं के लाभार्थियों को भी आमंत्रित किया गया है।

  • देहरादून में परेड ग्राउंड के चारों ओर रहेगा जीरो जोन

वहीं गणतंत्र दिवस परेड की तैयारियों के बीच यातायात पुलिस ने बुधवार को ट्रैफिक और डायवर्जन प्लान भी जारी कर दिया है। गणतंत्र दिवस पर परेड के दौरान परेड ग्राउंड के चारों ओर पूरी तरह से जीरो जोन रहेगा। यहां पर कोई वाहन, रेहड़ी व ठेलियां नहीं चलेंगी। इसके साथ ही ग्राउंड के आसपास के खाली मैदानों को वाहनों की पार्किंग के लिए चिह्नित किया गया है।

Continue Reading

संपादक - कस्तूरी न्यूज़

More in others

Recent Posts

Facebook

Advertisement

Trending Posts

You cannot copy content of this page