Connect with us
पृथ्वी लोक में अज्ञात उड़न तश्तरियों के रहस्य ने नासा के वैज्ञानिकों के दिमाग को भी घनचक्कर बना दिया है। 1 साल तक बारीकी से अध्ययन के बाद भी इन उड़न तश्तरियों के बारे में वैज्ञानिक कोई सटीक विश्लेषण नहीं दे पाए हैं। हालांकि नासा को यह संकेत मिले हैं कि धरती से बाहर एलियंस मौजूद हैं।

others

अज्ञात उड़न तश्तरियों के मायाजाल से NASA हैरान, क्या इन्हें धरती पर भेजते हैं एलियन; वैज्ञानिकों का दिमाग भी बना घनचक्कर

खबर शेयर करें -

धरती लोक में दिखाई देने वाली उड़न तश्तरियों के मायाजाल से अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा भी हैरान है। नासा के वैज्ञानिकों ने अज्ञात उड़न तश्तरी यानि Unidentified Flying Object (UFO) को लेकर जो रिपोर्ट जारी की है, उसके बारे में जानकर आपका दिमाग भी चकरा जाएगा। आखिर इन उड़न तश्तरियों का रहस्य क्या है, क्या इन उड़न तश्तरियों को एलियन धरती पर भेजते हैं, क्या ये उड़न तश्तरियां पृथ्वी लोक में मनुष्यों की जासूसी करने की लिए आती हैं या फिर किसी देश द्वारा उन्हें किसी दूसरे राष्ट्र की जासूसी के लिए छोड़ा गया है। वजह कुछ भी हो, लेकिन सबसे बड़ा सवाल यही है कि आखिर इन उड़न तश्तरियों के बारे में वैज्ञानिक कुछ भी पता क्यों नहीं लगा पा रहे हैं।

नासा ने इन उड़न तश्तरियों के बारे में करीब एक वर्ष तक अध्ययन किया है। इसके बावजूद वैज्ञानिक कोई सटीक अनुमान नहीं लगा पाए हैं। अब नासा ने जो UFO रिपोर्ट दी है, उसने वैज्ञानिकों की नींद हवा कर दी है। अब भी सवाल वही है कि आखिर कहां से आती हैं ये उड़न तश्तरियां, क्या उड़न तश्तरियों को एलियन द्वारा यहां भेजा जा रहा है, क्या उड़न तश्तरियों से धरती लोक की एलियन द्वारा जासूसी कराई जा रही है। आखिर इन उड़न तश्तरियों के लोक का रहस्य क्या है। नासा के एक साल के अध्ययन में उड़न तश्तरियों के बारे में क्या पता चला। आइए आपको सबसे पहले बताते हैं कि नासा के वैज्ञानिकों की रिपोर्ट उड़न तश्तरियों के बारे में क्या कहती है?

नासा ने यूएफओ रिपोर्ट में किया चौंकाने वाला खुलासा

नासा ने बृहस्पतिवार को अपने वैज्ञानिकों के एक स्वतंत्र दल के माध्यम से अपनी 33 पन्नों की रिपोर्ट में आगाह किया है कि यूएफओ को लेकर नकारात्मक धारणा इस बारे में जानकारी एकत्रित करने में बाधक बन रही है, लेकिन अधिकारियों ने कहा कि नासा के शामिल होने से इस बारे में नकारात्मकता को दूर करने में मदद मिलेगी। नासा ने यह भी दावा किया है कि उसे लगता है कि धरती के बाहर कहीं एलियंस मौजूद हैं। नासा के प्रशासक बिल नेल्सन ने इस दिशा में पारदर्शी प्रयासों का वादा किया। नासा ने कहा कि अज्ञात उड़न तश्तरियों (यूएफओ) के अध्ययन के लिए नई वैज्ञानिक तकनीक जरूरी होंगी जिनमें आधुनिक उपग्रह शामिल हैं। नासा ने यूएफओ पर एक साल तक चले अध्ययन के बाद यह निष्कर्ष जारी किया।

नासा को मिले धरती से बाहर एलियंस के संकेत अब जांच के लिए बनाई टीम

नासा के वैज्ञानिकों को धरती से बाहर एलियंस होने के संकेत मिलने के बाद विशेष वैज्ञानिकों की एक टीम बनाई है। इसमें 16 ग्रुप सदस्यों को शामिल किया गया है। वैज्ञानिकों ने कहा है कि इन दुर्लभ घटनाओं की पहचान के लिए आर्टिफीशियल इंटेलीजेंस (एआइ) और मशीन लर्निंग (एमएल) सबसे जरूरी उपकरण हैं। उड़न तश्तरियों को हवाई क्षेत्र की सुरक्षा के लिए भी खतरा माना गया है। इसलिए इनके बारे में सटीक विश्लेषण के लिए बारीक तकनीकी अध्ययनों की जरूरत बताई गई है।

क्या उड़न तश्तरियों के पीछे है अलौकिक शक्ति

अपने एक वर्ष के वैज्ञानिक अध्ययनों के बाद भी नासा के वैज्ञानिक अज्ञात उड़न तश्तरियों के बारे में कोई सटीक विश्लेषण नहीं दे पाए हैं। लिहाजा विस्तृत विश्लेषण के लिए नई वैज्ञानिक टीम बनाई गई है। नासा के वैज्ञानिक मानते हैं कि इन अज्ञात उड़न तश्तरियों के पीछे कोई अलौकिक शक्ति है। वैज्ञानिकों के अनुसार सौर मंडल से कोई अलौकिक शक्ति उड़न तश्तरियों के रूप में धरती पर पहुंचती है। वैज्ञानिकों के अनुसार अज्ञात उड़न तश्तरियां धरती के सबसे बड़े रहस्यों में से एक हैं।

Continue Reading

संपादक - कस्तूरी न्यूज़

More in others

Recent Posts

Facebook

Advertisement

Trending Posts

You cannot copy content of this page