Connect with us
माही खुद को अविवाहित बताती थी, लेकिन जांच में पता चला है कि उसकी शादी हल्द्वानी के एक पूर्व सभासद के बेटे से हुई थी।

हल्द्वानी

माही का घर बनवाया था शहर के नामी बिल्डर ने, रईसी का आलम भी गज़ब

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी: कोबरा से डंसवा कर कारोबारी अंकित चौहान की जान लेने वाली माही अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है लेकिन उसे लेकर रोज नये खुलासे हो रहे जैन। अब पुलिस जांच में पता चला है कि माही का घर शहर के नामी बिल्डर ने बनवाया था। पुलिस माही के तमाम संबंधों के बारे में बारीकी से जांच कर रही है।

पुलिस हत्याकांड की मुख्य आरोपी माही आर्या उर्फ डॉली के साथ ही उसके प्रेमी और नौकर-नौकरानी की तलाश कर रही है। पुलिस की जांच में माही को लेकर कई बड़ी बातें पता चली हैं। जांच मे पता चला कि माही बेहद शातिर है। अब यह भी पता चला है कि उसके नौकरानी के बच्चे भी साथ ही फरार हैँ।

उसका शहर के 20 बड़े रसूखदारों से नाता रहा है। ये लोग अक्सर माही के घर आते-जाते रहते थे। माही खुद को अविवाहित बताती थी, लेकिन जांच में पता चला है कि उसकी शादी हल्द्वानी के एक पूर्व सभासद के बेटे से हुई थी। शातिर माही की रसूखदारों से पहचान बढ़ी तो उसने माता-पिता के साथ ही ससुराल वालों से भी दूरी बना ली।

वो गोरापड़ाव में अकेले रहती थी। घर के काम के लिए एक नौकरानी भी उसने रखी हुई थी। पड़ोसियों का कहना है कि माही के घर के बाहर अक्सर महंगी कारें मंडराती दिखती थीं। उसके चाल-चलन को देख आस-पास के लोगों ने उससे बातचीत करना बंद कर दिया था।

अंकित की हत्या के लिए माही ने जिस सपेरे से मदद ली, उसके साथ उसने शारीरिक संबंध भी बनाए थे। पुलिस ने माही समेत सभी फरार आरोपियों पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है। आरोपियों की तलाश में पुलिस टीम ने नेपाल बार्डर से सटे टनकपुर, बनबसा, लखीमपुर खीरी क्षेत्र में भी दबिश दी, लेकिन फिलहाल आरोपियों का सुराग नहीं लग सका है। 14 जुलाई को अंकित की हत्या करने के बाद सभी आरोपी पीलीभीत में नौकरानी ऊषा के घर पहुंचे थे।

माही कितनी शातिर है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उसने लाश को ठिकाने लगाकर साक्ष्य मिटाने की कोशिश की। वारदात के बाद फरार हत्यारों के फोन बंद हैं, हालांकि पुलिस की तरफ से आज घटना का खुलासा होने की उम्मीद है। पुलिस ने सोमवार तक हत्यारों को पकड़ने का दावा किया है। Haldwani की Mahi का Lifestyle इस वक्त चर्चाओं में है।

Continue Reading

संपादक - कस्तूरी न्यूज़

More in हल्द्वानी

Recent Posts

Facebook

Advertisement

Trending Posts

You cannot copy content of this page