Connect with us

क्राइम

बंगाल के पुरुलिया में तीन साधुओं के साथ मारपीट के बाद गरमाई राजनीति

खबर शेयर करें -

पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में तीन साधुओं के साथ मारपीट के मामले में 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. ये लोग उत्तर प्रदेश से पश्चिम बंगाल के मशहूर तीर्थ गंगासागर मेले के लिए जा रहे थे. बताया जा रहा है कि भीड़ ने किडनैपर समझकर इन लोगों के साथ मारपीट की. इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, साधु ने अपने दो बेटों के साथ मकरसंक्राति पर गंगासागर जाने के लिए वाहन बुक किया था.

रिपोर्ट के मुताबिक, साधु ने जिस तरह से रास्ते के बारे में पूछा, उससे कुछ लोगों को संदेह हुआ कि वे किडनैपर हैं, इसके बाद भीड़ ने साधुओं के साथ मारपीट शुरू कर दी. इस मामले में अब तक 12 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुरुलिया पुलिस के मुताबिक, भाषा की समस्या को लेकर साधुओं और कुछ स्थानीय लड़कियों के बीच गलतफहमी हो गई, इसके बाद लड़कियों ने भागना और चिल्लाना शुरू कर दिया. इससे वहां भीड़ इकट्ठा हो गई और साधुओं के साथ मारपीट की गई. बीजेपी ने साधा ममता सरकार पर निशानापश्चिम बंगाल के पुरुलिया में कथित तौर पर मॉब लिंचिंग का मामला सामने आने के बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ममता बनर्जी सरकार पर हमलावर हो गई है. केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने सीधे तौर पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला बोला है. उन्होंने पूछा कि आखिरकार बंगाल में यह माहौल क्यों है? उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तुष्टिकरण का आरोप लगाया है और कानून व्यवस्था पर भी सवाल खड़ा किया है.’तुष्टिकरण में बंगाल का माहौल खराब किया’न्यूज़ एजेंसी ANI से बातचीत में पुरुलिया की घटना पर अनुराग ठाकुर ने कहा, “आखिरकार बंगाल में ये वातावरण क्यों है? तुष्टिकरण की राजनीति ने ऐसा ही वातावरण बना दिया है. राम जन्म भूमि का शिलान्यास हो तो बंगाल में कर्फ्यू लगा दिया. साधुओं की हत्या का प्रयास किया जाता है. तुष्टिकरण की राजनीति बंगाल को कहां लेकर जा रही है? आखिर ये हिन्दू विरोधी सोच क्यों ?”‘बंगाल में कानून व्यवस्था चरमरा गई है’राज्य की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़ा करते हुए अनुराग ठाकुर ने आगे कहा, “पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था चरमरा गई है. जो जनता का पैसा आता है, उसे खाने का काम (गबन) किया जाता है. भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है, अगर उनपर कार्रवाई की जाए तो ईडी की टीम पर भी पथराव होता है. पश्चिम बंगाल की सरकार उन्हें (भ्रष्टाचारियों को) क्यों बचाती है? या लूट की छूट उन्होंने दे रखी है, या उनके कार्यकर्ता ममता बनर्जी नहीं सुनते.”क्या हुआ है पुरुलिया में?

पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले में साधुओं के एक ग्रुप को कथित तौर पर भीड़ के पीटने का वीडियो सामने आया है. ये वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. मामले पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने सत्ताधारी दल तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) पर निशाना साधा है. पार्टी की आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर लिखा, “ममता बनर्जी की गहरी चुप्पी शर्मशार करने वाली. क्या ये साधु आपकी मान्यता के योग्य नहीं हैं? अत्याचार जवाबदेही की मांग करता है.”निर्वस्त्र कर साधुओं को पीटने का मामलासोशल मीडिया पर एक 30 सेकेंड की फुटेज वायरल हो रही है जिसमें कथित तौर पर साधुओं के समूह को भीड़ की ओर से निर्वस्त्र करते और उन पर हमला करते हुए देखा जा सकता है।

Continue Reading

संपादक - कस्तूरी न्यूज़

More in क्राइम

Recent Posts

Facebook

Advertisement

Trending Posts

You cannot copy content of this page