Connect with us

others

15 जुलाई से 30 अगस्त तक वृहद वृक्षारोपण अभियान चलेगा, फलों के पौधे निशुल्क भेंट किए जाएंगे

खबर शेयर करें -

पिछले वर्षों की तरह इस वर्ष भी 20 हज़ार से अधिक पौधे लगाने की योजना है. इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए 15 जुलाई 2024 से 30 अगस्त 2024 तक इच्छुक लोगों को उनकी अपनी भूमि पर लगाने के लिए आम, अमरूद, कटहल, आंवला, तेज़पत्ता,नींबू, सहजन, शरीफा, अंगूर, अनार, karaunda आदि के पौधे निःशुल्क भेंट किए जाएंगे. ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यक्रम आयोजित करके बड़े पेड़ों के पौधे और शहरी क्षेत्र में जहाँ लोगों के पास जमीन कम होती है वहां छोटे पौधे भेंट किए जाएंगे. जो जनप्रतिनिधि/समाजसेवी/पर्यावरण प्रेमी अपने क्षेत्र में इस तरह के आयोजन कराना चाहें वह 10 जुलाई तक मुझे मेरे wattsapp नंबर 9997019501 पर संदेश भेज दें .कार्यक्रम के दिन और समय के लिये मैं स्वयं उनसे संपर्क कर लूँगा.

पौधे मेरे द्वारा निशुल्क उपलब्ध कराए जाएंगे, उन्हें क्षेत्र के लोगों को सूचित करके निर्धारित समय पर एकत्र करना होगा. सरकारी या गैर सरकारी संस्थाएं, जिनके पास जानवरों से बचाव और सिंचाई की व्यवस्था हो वह भी संस्था में पौधे लगाना चाहें तो संपर्क कर सकते हैं. गेट बंद कॉलोनियों में भी पौधे लगाना चाहें तो wattsapp पर संपर्क करने का कष्ट करें. नैनीताल और उद्यम सिंहनगर जिले में लगाना प्राथमिकता है क्योंकि पौधे दूर ले जाने में परिवहन में कठिनाई होती है. मैं आयुर्वेद विभाग में 1988 से कार्यरत रहा. तभी से सरकारी काम के साथ-साथ पर्यावरण संरक्षण के लिए जो थोड़ा बहुत कर सकता हूं कर रहा हूं. अभी प्रतिवर्ष 20 हज़ार से अधिक पौधे लगाने का लक्ष्य है आप सबके सहयोग से अब तक 4 लाख 10 हज़ार पौधे लगाए गए हैं. अप्रैल 2023 में सेवानिवृत्ति के बाद इसे और बढ़ाने का विचार है.

मैंने अभी तक किसी व्यक्ति, सरकार या एनजीओ से कोई आर्थिक मदद नहीं ली है और जब तक ईश्वर की कृपा है अपनी क्षमता के अनुसार प्रयास जारी रखूँगा. मेरे बहुत से मित्र और शुभचिंतक अपना अमूल्य समय देकर मेरा सहयोग करते हैं, कई मित्र अपने वाहन सहित साथ देते हैं उन सबका मैं हृदय से आभारी हूं. हमारा उद्देश्य है पृथ्वी पर हरियाली हो, ग्लोबल वार्मिंग कम हो, भूमिगत जल बढ़े, नदियां-जल स्रोत सलामत रहें. आइए हम सब पेड़ लगाकर धरती को सुन्दर बनाएं. विनीत डॉ आशुतोष पन्त पूर्व जिला आयुर्वेद अधिकारी/पर्यावरण कार्यकर्ता, हल्द्वानी.

Continue Reading

संपादक - कस्तूरी न्यूज़

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in others

Recent Posts

Facebook

Advertisement

Trending Posts

You cannot copy content of this page